Monday, October 5, 2009

कतरन

रूसी अंतरिक्ष एजेंसी का नाम रोस्कोस्मोस है ।

वर्ष 1989 में बर्लिन की दीवार गिरने से पहले तक पूर्वी तथा पश्चिमी जर्मनी चार दशक से अधिक समय तक अलग-अलग थे। वर्ष 1990 में इनका आधिकारिक तौर पर एकीकरण हुआ।

न्यूक्लियर मेडिसिन एक प्रकार की चिकित्सकीय जांच तकनाक है, जिसमें रोगों की किसी भी अवस्था में गहन जांच और इलाज किया जा सकता है। कोशिका की फिजियोलॉजी और बायोलॉजी में आ रहे परिवर्तन के आधार पर न्यूक्लियर मेडिसिन तकनीक से चिकित्सा की जाती है। न्यूक्लियर मेडिसिन तकनीक सुरक्षित, कम खर्चीला और दर्दरहित चिकित्सा तकनीक है।न्यूक्लियर मेडिसिन में रोगी के शरीर में इंजेक्शन द्वारा बहुत ही कम मात्र में रेडियोधर्मी तत्व प्रविष्ट करा दिये जाते हैं, जिसे शरीर में संक्रमित या प्रभावित कोशिका इसे अवशोषित कर लेते हैं। इससे होने वाले विकिरण को एक विशेष प्रकार के गामा कैमरे में कैद कर रोग की सटीक और विस्तृत जांच की जाती है। न्यूक्लियर मेडिसिन स्कैनिंग से मिले अलग फिल्म में प्रभावित अंग की विस्तृत जानकारी मिलती है। न्यूक्लियर मेडिसिन तकनीक में रेडियो धर्मी तत्व का प्रयोग इतने कम मात्र में किया जाता है कि इससे होने वाले विकिरण का प्रभाव कोशिकाओं पर नहीं पड़ता है।
न्यूक्लियर मेडिसिन द्वारा कैंसर, हृदय, मस्तिष्क, फेफड़ा, थायराइड अपटेक स्कैन और बोन स्कैन किए जाते हैं। इसके आलावा अन्य रोगों का ईलाज भी न्यूक्लियर मेडिसिन द्वारा की किया जाता है। थायराइड में आई खराबी और हड्डी में लगातार हो रहे दर्द का इलाज भी इसी तकनीक से होता है।

1 comment: